महिला क्रिकेटर

झूलन गोस्वामी (क्रिकेटर)

  • भारतीय पुरुष क्रिकेट टीम हमेशा से ही एक अदद तेज गेंदबाज के लिए जूझती रही है। बहुत कम ही लोगों को पता होगा कि महिला टीम की स्टार गेंदबाज झूलन गोस्वामी दुनिया की सबसे तेज गेंदबाजों में से एक है
  • झूलन गोस्वामी का जन्म बंगाल के नदिया जिले में 25 नवम्बर 1982 को हुआ था
  • झूलन बचपन में अपने घर के आसपास के लड़कों के साथ टेनिस बॉल से क्रिकेट खेला करती थीं। लेकिन इनकी रफ़्तार इतनी कम थी कि लड़के इनको चिढ़ाते और कहते थे कि बॉलिंग तुम्हारे बस की नहीं, तुम बैटिंग कर लो
  • ये बातें झूलन को बहुत चुभी और उन्होंने उसी दिन फैसला किया वो तेज गेंदबाज बनेंगी
  • झूलन बताती हैं कि 1997 महिला विश्व कप का फाइनल मैच टीवी पर देखने के बाद उनके मन में पहली बार भारत के लिए खेलने की इच्छा जागी थी
  • बड़ी होने के साथ झूलन की क्रिकेट में दिलचस्पी बढ़ी और उन्होंने इसे सीखने के लिए स्टेडियम जाने की सोची
  • झूलन के शहर में क्रिकेट की कोई सुविधा न होने के कारण उन्हें इसे सीखने के लिए कोलकाता आना पड़ता था
  • झूलन रोज सुबह 5 बजे उठकर चकदाह से सियालदाह के लिए ट्रेन पकड़ती और फिर वहां से बस से सफर कर 7:30 तक क्रिकेट प्रैक्टिस पर पहुंचती थी फिर 9:30 के बाद उन्हें 2 घंटा सफर कर स्कूल जाना पड़ता था
  • गोस्वामी उन दिनों को याद करते हुए बताती है रोजाना की इन 4 घंटो के सफर ने उन्हें मानसिक रुप से मजबूत किया
  • झूलन की प्रतिभा को देखते हुए 19 साल की उम्र में बंगाल महिला क्रिकेट टीम में शामिल कर लिया गया
  • जल्द ही झूलन को भारतीय महिला टीम में भी शामिल कर लिया गया और इंग्लैंड के खिलाफ चेन्नई में खेले गए वनडे मैंच में पर्दापण किया
  • झूलन ने अपेन करियर में अभी तक दो बार 5 या उससे ज्यादा विकेट लिए हैं
  • 15 साल में सिर्फ 10 टेस्ट मैच खेले भारतीय महिला क्रिकेट टीम को ज्यादा टेस्ट मैच खेलने को नहीं मिलता है यही वजह है कि झूलन ने अपने 15 साल के कैरियर सिर्फ 10 टेस्ट मैच ही खेले हैं
  • इंग्लैंड के खिलाफ 2006 में खेले गए एक टेस्ट मैच में दोनों पारियों में 5 विकेट लिए थे
  • 2007 में झूलन को आईसीसी वूमन क्रिकेटर ऑफ द ईयर के खिताब से नवाजा गया
  • 2010 में झूलन को भारत सरकार ने अर्जुन पुरस्कार और 2012 में उन्हें पद्रम श्री से नवाजा गया था
  • झूलन ने 2008 से 2011 तक भारतीय महिला क्रिकेट टीम की कप्तानी भी की है
  • ऑलराउंडर झूलन ने टीम इंडिया के लिए 10 टेस्ट और 135 वनडे खेले है
  • चकदहा एक्सप्रेस के नाम से झूलन गोस्वामी के जीवन पर फिल्म बनाने की तैयारी है
Share this article:

Leave a Comment