शशि थरूर

एजुकेशन, योग्यता, समझ आपको वहां तक ले जा सकती है जहां आपका आप होना मांयने रखता है, पद, पोजिशन ओहदे आते जाते रहते हैं,वजन व्यक्तित्व का होना चाहिए, जहां थरूर होते हैं,उस फोरम पर वही होते है, थरूर संज्ञा नही, विशेषण है।
जन्मे यूके में, मगर बचपन भारत मे गुजरा, दिल्ली के सेंट-स्टीफेंस से एमए किया, फिर मैसाच्युएट्स की तफ्ट यूनिवर्सिटी में दाखिला लिया, हम जो आज उनकी छोरियों के साथ तस्वीरों पर फिकरे कसते हैं..
हम जब बोलना सीख रहे थे न तब, शशि थरूर इंटरनेशनल रिलेशन्स पर पीएचडी कर डॉक्टर हो चुके थे,उस वर्ष यूनिवर्सिटी का बेस्ट स्टूडेंट का खिताब भी दक्षिणा में लेकर निकले।

1978 में उन्होंने यूनाइटेड नेशन जॉइन किया, जो विंग रेस्क्यू मिशन चलाती है, वहां काम किया, अगले पच्चीस साल सीढियां चढ़ते गए, दुनिया के हर देश, हर नेता, हर डिप्लोमेट से डील किया।
सिंगापुर बोट क्राइसिस हैंडल किया, यूगोस्लाविया की टूट के दौरान सक्रिय रहे, अपनी विंग के हेड हो गए।
2002 कोफी अन्नान ने उन्हें अंडर सेकेट्री जनरल बना दिया, संयुक्त राष्ट्र का उप महासचिव।

फिर आया 2006, अन्नान रिटायर हो रहे थे, यूएन सेक्रेटरी जनरल सभी महाद्वीपों से बारी बारी चुना जाता है, अफ्रीकन अन्नान के बाद अब किसी एशियन का चांस था, चीन और उसके साथी, साउथ कोरियन “बान की मून” की उम्मीदवारी के समर्थन में थे। इस वक्त थरूर ने भारत सरकार से सम्पर्क किया,अपनी उम्मीदवारी नॉमिनेट करने का निवेदन किया।

भारत झिझका, मगर थरूर को अपने करियर में किये काम और अंतरराष्ट्रीय सम्बंधो पर भरोसा था, भारत सरकार ने भी उनके भरोसे पर भरोसा किया,
फिर बहुत सारे समीकरणों, कारणों की वज़ह से उन्होंने अपनी संयुक्त राष्ट्र महासचिव UN General secretary की दावेदारी को वापस ले लिया, और कोरियाई बान की मून यूएन महासचिव बने।।

पारिवारिक पृष्ठभूमि….
केरल का थिरुवित्तमकूर (Thiruvittamkoor), जो अभी त्रावणकोर कहलाता है, वहाँ का राजवंश है त्रावणकोर राजवंश। जैसा कि नाम से समझ आता है, त्रावणकोर राजवंश त्रावणकोर राज्य को चलाता था,
ये पहले एक काफी समृद्ध रियासत थी, जिसकी राजधानी पहले पद्मनाभपुरम और फिर तिरुवनन्तपुरम रही।
इस रियासत का विस्तार वर्तमान केरल के कई हिस्सों से शुरू होकर तमिलनाडु के कन्याकुमारी तक था।
साल 1949 में आजाद भारत के तहत रियासत देश से मिल गई और साल 1971 में शाही परिवार को मिलने वाले प्रिवी पर्स भी बंद हो गए,
लेकिन आज भी शाही परिवार के पास काफी संपत्ति है, जो कोर्ट द्वारा राजपरिवार के पक्ष में फैसले के बाद से और भी ज्यादा हो चुकी है।
केरल का पद्मनाभस्वामी मन्दिर यही राजपरिवार चलाता है, उसकी देखरेख व ट्रस्ट आदि की ज़िम्मेदारी इसी परिवार के पास है, कहते हैं पद्मनाभस्वामी मन्दिर में अकूत सम्पत्ति है, इसीलिए उस मन्दिर को केन्द्र सरकार आज़ादी के समय से ही अपने अधीन करने के प्रयास में रही लेकिन हर बार विफल रही।
दक्षिण में एक जाति है नायर, UP/बिहार के भूमिहार की तरह की जाति। इसी जाति से ताल्लुक रखता है यह राजपरिवार।
VK कृष्ण मेनन, MG रामचन्द्रन आदि भी नायर थे, कहते हैं दक्षिण के मशहूर राजवंश पांड्यन का एक हिस्सा बाद में चेरा कहलाया, बाद में इसी चेरा से निकले मार्तंड वर्मन ने इस राजवंश की स्थापना की।

त्रावणकोर के इसी राजपरिवार के हिस्सा हैं पूर्व केंद्रीय मंत्री शशि थरूर, जिनका आज जन्मदिवस है। इनके पूर्वज ने थिरुवित्तमकूर को अपभ्रंश करके अपना आस्पद थरूर कर लिया।
त्रावणकोर राजपरिवार का आस्पद थिरूनल भी थिरुवित्तमकूर का ही अपभ्रंश है।

थरूर की निजी ज़िन्दगी भी बहुत रोचक है, लंदन में जन्मे थरूर जितने पढ़े लिखे हैं, कोई आंकलन भी नहीं कर सकता।
संयुक्त राष्ट्र के अध्यक्ष का चुनाव लड़ चुके थरूर पूर्व नौकरशाह रहे है, दर्जन भर से ज़्यादा नॉवेल व बेस्टसेलर किताबें लिख चुके थरूर की अंग्रेज़ी में कमांड इतनी हाई है कि अंग्रेज़ भी शर्मा जाएं।

किसी फिल्मी हीरो के जैसे डैशिंग थरूर ने तीन शादियां की हैं। पहली पत्नी तिलोत्तमा मुखर्जी मध्यप्रदेश के पूर्व मुख्यमंत्री और पूर्व प्रधानमंत्री नेहरू के सबसे खास मित्र रहे कैलाशनाथ काटजू की नातिन हैं। इनके दो जुड़वां बेटे कनिष्क व ईशान तिलोत्तमा जी से ही जन्मे हैं, जो न्यू यॉर्क यूनिवर्सिटी में प्रोफेसर हैं। बाकी दोनों से कोई सन्तान नहीं। दूसरा विवाह संयुक्त राष्ट्र में कार्य कर चुकीं कनाडियन नागरिक क्रिस्टा गिल्स थीं। तीसरा और चर्चित विवाह सुनन्दा पुष्कर से हुआ था, जिनको लेकर गुजरात के तत्कालीन मुख्यमंत्री ने 50 करोड़ की गर्लफ्रैंड वाली अमर्यादित टिप्पणी की थी।

थरूर अंग्रेजी भाषा के प्रसिद्ध लेखक, उपन्यासकार, अंतरराष्ट्रीय राजनीति-कूटनीति के विख्यात विशेषज्ञ तो है ही,इसके साथ इनकी विभिन्न भाषाओं पर पकड़ तथा किसी भी विषय पर कंटेम्प्रेरी ज्ञान भी दुनिया में उत्कृष्ट स्तर का है।।

बड़ी मुश्किल से उनकी ये ऐसी फोटो मिली है 🙏

Share this article:

Leave a Comment